पीएम किसान योजना चौथी किस्त ₹2000 की धनराशि अभी हुई जारी देखें मात्र 2 मिनट में: PM Kisan Samman Nidhi Yojana 14th Installment Beneficiary Status 

आपकी जानकारी हेतु हम आप को इस बात से अवगत करवा दे कि प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना के तहत ₹2000 की धनराशि को जारी किया जा चुका है। किंतु किन लाभार्थियों को यह धनराशि प्राप्त होगी?

इसकी जानकारी प्राप्ति हेतु आवश्यक है कि सर्वप्रथम पेमेंट स्टेटमेंट प्राप्त किया जाए। पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किस प्रकार से आप इस बात की जांच कर सकते हैं?

कि इस योजना के तहत आप को आर्थिक सहायता मिली है अथवा नहीं? इस बात कि जानकारी प्राप्ति हेतु आवश्यक है कि आप हमारी इस पोस्ट के साथ आखिरी तक जुड़े रहे।

पीएम किसान योजना क्या है?

पीएम किसान योजना केंद्र सरकार के द्वारा प्रारंभ कि गई एक लाभकारी योजना है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के छोटे तथा सीमांत किसानों को लाभान्वित करना है। 

इस योजना के तहत आने वाले लाभार्थियों को सरकार नियमित रूप से आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाती है। वैसे तो देश के छोटे तथा सीमांत किसानों को ही इस योजना के तहत लाभ की प्राप्ति होती है।

अर्थात वे किसान जिनके पास आय का पर्याप्त स्त्रोत है तथा उनकी आर्थिक स्थिति भी अच्छी है। वह लोग इस योजना के तहत आवेदन कर लाभ की प्राप्ति नहीं कर सकते हैं।

क्यों थी आवश्यकता?

सरकार ऐसे ही किसी भी योजना की शुरुआत नहीं कर देती है। अर्थात जब सरकार किसी योजना की शुरुआत करती है, तो फिर उस योजना के द्वारा देश के काफी सारे लोगों को लाभ की प्राप्ति होती है।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना भी इन्हीं योजनाओं में से एक है। अर्थात सरकार के द्वारा प्रारंभ की गई इस योजना के द्वारा देश के लाखों पात्र लाभार्थियों को राहत मिली है।

हमारे देश के मुख्य रूप से छोटे तथा सीमांत किसान आर्थिक तंगी का सामना करते रहते हैं। जिसके परिणाम स्वरूप कभी-कभी तो परिवार सहित आत्महत्या करने तक की नौबत भी आ जाती है।

क्योंकि वह संपूर्ण जीवन अपने संपूर्ण सामर्थ्य को झांककर कड़ी धूप में खेतों में मेहनत कर अनाज को उपजाते हैं और उसी से अपना जीवन यापन करते हैं।

किंतु यदि कोई प्राकृतिक आपदा आ जाए, जैसे सूखा या बाढ़ तो ऐसे में उनकी फसल नष्ट हो जाती है।

कितने रुपए की सहायता दी जाती है?

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत आने वाले लाभार्थियों को इस योजना के तहत आर्थिक सहायता की प्राप्ति होती है। प्राप्त होने वाली इस आर्थिक सहायता में मुख्य रूप से ₹6000 की धनराशि होती है।

किंतु लाभार्थियों को यह धनराशि एक ही बार नहीं प्राप्त हो जाती है। अर्थात इन्हें ₹2000 की तीन समान किस्तों में इस धनराशि की प्राप्ति होती है।

इस योजना के तहत आने वाले लाभार्थियों को यह धनराशि न तो कोई कर्मचारी उपलब्ध कराता है और ना ही कोई अफसर यह धनराशि उन्हें देता है। यह धनराशि लाभार्थियों के बैंक खाते में सरकार सीधे ट्रांसफर करती है।

एक किस्त से दूसरे किस्त के मध्य का समय अंतराल लगभग 4 महीनों का होता है। अर्थात पहली किस्त ट्रांसफर करने के पश्चात दूसरी किस्त को ट्रांसफर किए जाने के मध्य में चार महीनों का अंतराल होता है।

अनिवार्य है ईकेवाईसी

वैसे तो अभी ईकेवाईसी को सरकार हर एक क्षेत्र में अनिवार्य कर रही है। फिर वह चाहे सरकार के द्वारा लाई जाने वाली कोई भी योजना क्यों ना हो।

क्योंकि सरकार के द्वारा जब भी किसी योजना की शुरुआत की जाती है, तो फिर उस योजना के तहत किन्हें लाभान्वित किया जाएगा?

इसका भी पूर्व निर्धारण हो चुका होता है। लेकिन फिर भी कुछ अपात्र लोग इन योजनाओं का फायदा प्राप्त कर रहे होते हैं।

ऐसे में ईकेवाईसी की प्रक्रिया के माध्यम से सरकार को इस विषय में जानकारी प्राप्त हो जाएगी की योजना के तहत कौन कौन पात्र है व कौन कौन अपात्र है!

इस वजह से पीएम किसान योजना के तहत आने वाले प्रत्येक लाभार्थी के लिए ईकेवाईसी की प्रक्रिया को अनिवार्य कर दिया गया है।

ईकेवाईसी की प्रक्रिया को पूर्ण करने हेतु लाभार्थी पीएम किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट में विजिट कर सकते हैं।

यदि किसी लाभार्थी का ईकेवाईसी अपूर्ण रह जाता है, तो फिर उसे इस योजना के तहत प्राप्त होने वाली आगामी आर्थिक सहायता से वंचित होना पड़ सकता है।

क्या आप के भी पैसे अटके हुए हैं?

इस योजना के तहत आने वाले काफी सारे लाभार्थियों के पैसे अटके हुए हैं। ऐसे में यदि आपकी भी गिनती इन्हीं लोगों में होती है, तो फिर परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।

हमने नीचे में उन कारणों के विषय में जानकारियां उपलब्ध कराई है। जिस वजह से लाभार्थियों के अकाउंट में इस योजना के तहत उपलब्ध कराई जाने वाली धनराशि नहीं आ रही है।।

  1. बैंक डिटेल्स में कोई त्रुटि की संभावना
  2. जमीन के कागजातों में कोई कमी
  3. संभवतः लाभार्थी अपात्र पाया गया हो
  4. ईकेवाईसी अपूर्ण होने के कारण
  5. जमीन के कागजात पिता अथवा दादा के नाम पर होने के कारण
  6. सरकारी अफसर के पद पर विद्यमान होने के कारण

इस योजना की सफलता

यदि आप इस बात की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं कि इस योजना के तहत आपको आर्थिक सहायता प्राप्त हुई है अथवा या नहीं! तो फिर आप को अपने बैंक ब्रांच में जाकर के संपर्क करना होगा।

वैसे तो सरकार के द्वारा काफी सारी योजनाएं प्रारंभ की जाती रहती है। लेकिन कुछ योजनाएं ही वास्तविकता में लाभकारी सिद्ध हो पाती है। पीएम किसान योजना की गिनती भी ऐसी ही योजनाओं में होती है।

इस योजना ने अपने सफलता के बलबूते ही स्वयं की पहचान बनाई है। इस योजना में वर्तमान में देश के लाखों लोगों को लाभान्वित किया है। इसके तहत अब तक 13 किस्तों का भुगतान सफलतापूर्वक किया जा चुका है।

वही अभी 14वीं किस्त के भुगतान की तैयारियां चल रही है। शीघ्र ही इस किस्त को भी जारी कर दिया जाएगा। इस योजना के तहत प्राप्त होने वाली धनराशि का प्रयोग किसान खेती के कार्यों के अतिरिक्त निजी कार्यों में भी कर सकते हैं।

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने आप सभी लोगों के समक्ष पीएम किसान सम्मान निधि योजना से संबंधित काफी सारी आवश्यक जानकारियां उल्लेखित कर दी है।

हमें आशा है कि हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई यह सारी जानकारियां आप को लाभान्वित करने हेतु पर्याप्त होंगी। 

x