Exclusive: भूल जाओ 7th Pay commission, केंद्रीय कर्मचारियों के लिए आएगा 8वां वेतन आयोग! मोदी सरकार का बदला मूड

वर्तमान समय में सभी केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को सातवां वेतन आयोग के अंतर्गत तनख्वाह दी जाती है। सरकार ने क्या ऐलान किया है कि जल्द ही आठवां वेतन आयोग लागू किया जाएगा। आपको बता दें कि हर 10 साल पर एक नया वेतन आयोग लागू किया जाता है।

मगर केंद्रीय कर्मचारियों के लिए मोदी सरकार ने इस नए वेतन आयोग की प्रक्रिया को तीव्र करके एक राहत की सांस ली है।

अगर आपको केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों की तनख्वाह और वेतन आयोग से जुड़ी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करना होगा।

सातवां वेतन आयोग के अंतर्गत सभी कर्मचारियों को वर्तमान समय में तनख्वाह दी जा रही है अगर आपने आठवां वेतन आयोग के खबर को सुना है और इससे जुड़ी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको हमारे नीचे बताए गए निर्देशों का आदेश अनुसार पालन करना होगा।

 वेतन आयोग क्या है

वेतन आयोग कुछ वरिष्ठ विशेषज्ञों की टीम होती है जिनका कार्य सभी सरकारी कर्मचारियों के लिए वेतन का निर्माण करना होता है।

सरकार सभी सरकारी कर्मचारियों का वेतन इस तरीके से तैयार करती है ताकि उन्हें बढ़ रही महंगाई की वजह से किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो।

इस वजह से सभी केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को वेतन आयोग की मदद से अच्छी तनख्वाह मिलती है।

वेतन आयोग का गठन आजादी के तुरंत बाद किया गया था। वेतन आयोग को संचालित करने के लिए एक प्रक्रिया निर्धारित की गई है जिसमें हर 10 साल पर एक नया वेतन आयोग लागू किया जाता है।

एक नए वेतन आयोग के लागू होने पर सभी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी को बढ़ा दिया जाता है और उसके बाद वेतन का संचालन बढ़े हुए महंगाई भत्ते की मदद से किया जाता है।

आपको बता दें वर्तमान समय में सातवां वेतन आयोग का संचालन किया जा रहा है जिसे 2016 में लागू किया गया था।

इस वेतन आयोग के अंतर्गत सभी कर्मचारियों को साल में दो बार महंगाई भत्ता दिया जाता है और इसके अलावा भी अलग-अलग प्रकार की बहुत सारी भत्ता दी जाती है।

सातवां वेतन आयोग में तनखा कैसे दी जाती है

सातवां वेतन आयोग के अंतर्गत सभी सरकारी कर्मचारियों को बेसिक सैलरी के साथ साथ महंगाई भत्ता भी दिया जाता है।

इसके अलावा हाउस अलाउंस और ट्रैवलिंग एलाउंस भी दिया जाता है। हाउस अलाउंस आपके घर के लिए पैसा होता है जो पैसा आपके शहर के अनुसार दिया जाता है जैसे बड़े शहर में रहने वाले सरकारी कर्मचारियों को ट्रैवलिंग एलाउंस और हाउस अलाउंस अधिक दिया जाता है।

हालांकि वर्तमान समय में हम आपको बेसिक सैलरी और महंगाई भत्ता के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

महंगाई भत्ता कर्मचारी के बेसिक सैलरी का कुछ प्रतिशत होता है। वर्तमान समय में सातवां वेतन आयोग के अंतर्गत महंगाई भत्ता बेसिक सैलरी का 2% होता है।

सबसे पहले आपको कर्मचारी के बेसिक सैलरी का 2% महंगाई भत्ता के रूप में मिलता है मगर यह महंगाई भत्ता साल में दो बार दिया जाता है।

हर छह महीने पर 2% देते हुए यह महंगाई भत्ता बढ़ता चला जाता है। जब महंगाई भत्ता वक्त के साथ बढ़ते हुए 50% हो जाता है तो उस रकम को कर्मचारी के बेसिक सैलरी में जोड़कर उसके बेसिक सैलरी को बढ़ा दिया जाता है। 

आठवां वेतन आयोग कब लागू होगा

2016 से सातवां वेतन आयोग के अंतर्गत सभी केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को तनख्वाह दी जा रही है। यह आवेदन प्रक्रिया काफी बेहतर है मगर इसे और भी बेहतर बनाने के लिए आठवां वेतन आयोग लागू किया जा रहा है।

सरकार का मानना है कि हर 10 साल पर महंगाई इतनी बढ़ जाती है कि तनख्वाह में कुछ परिवर्तन होना चाहिए इस वजह से वेतन आयोग का गठन किया जाता है मोदी सरकार ने बताया है कि वेतन आयोग का इस बार जल्दी गठन किया जाएगा।

नियम अनुसार वेतन आयोग हर 10 साल पर लागू होता है। सातवां वेतन आयोग 2016 में लागू हुआ था इस अनुसार आठवां वेतन आयोग 2026 में लागू होगा।

जब आठवां वेतन आयोग लागू होगा तो सभी कर्मचारियों की बेसिक सैलरी को बढ़ा दिया जाएगा और आप आसानी से घर बैठे काफी अच्छा पैसा कमा पाएंगे।

निष्कर्ष

आज इस लेख में सरल शब्दों में हमने आपको यह समझाने का प्रयास किया है कि वेतन आयोग क्या है किस प्रकार आठवां वेतन आयोग लागू होगा और कैसे आप वेतन आयोग के अंतर्गत अधिक से अधिक लाभ प्राप्त कर पाएंगे।

अगर हमारे द्वारा साझा की गई जानकारियों को पढ़ने के बाद आप वेतन आयोग को अच्छे से समझ पाए हैं तो इसे अपने मित्रों के साथ भी साझा करें।

x