School Holidays June 2023: भीषण गर्मी के कारण स्कूलों की छुट्टियाँ बढाई गई, जाने पूरी अपडेट

जैसा कि इस विषय में सभी जानते ही हैं कि यह वर्ष एक अत्यंत गर्म वर्ष माना जा रहा है। बढ़ती गर्मी ने देश के लोगों के दैनिक दिनचर्या को भी काफी ज्यादा कठिन बना दिया है।

ऐसे में स्कूल जाने वाले विद्यार्थियों के लिए आवश्यक सूचना इन दिनों निकाल कर के आ रही है। जिसके मुताबिक इस भीषण गर्मी को मध्य नजर रखते हुए स्कूलों की छुट्टियां बढ़ाई जाने वाली है।

इससे संबंधित प्रत्येक जानकारी इस पोस्ट में उल्लेखित की गई है। जिसके विषय में जान करके निसंदेह रूप से आनंद की प्राप्ति प्रत्येक छात्र को होगी।

गर्मियों की छुट्टी जारी है

गर्मियों की छुट्टी अभी भी जारी है। हालांकि इसकी समयावधि बढ़ने के पश्चात ही अभी यह छुट्टियां जारी रखी गई है। प्रारंभ में गर्मियों की छुट्टी की अवधि बढ़ाने की किसी भी प्रकार से कोई घोषणा नहीं की गई थी। 

लेकिन देश में बढ़ती गर्मी को मध्य नजर रखते हुए स्कूलों ने प्रदान की जाने वाली छुट्टियों में बढ़ोतरी कर दी है।

इससे पूर्व जब विद्यालय खुले हुए थे, तब विद्यार्थियों को निश्चित समयावधि में ही विद्यालय आना था क्योंकि दोपहर 12:00 बजे के पश्चात कड़ी धूप हो जाती थी।

परिणाम स्वरूप छात्रों को सुबह 6:00 बजे से लेकर के दोपहर 12:00 बजे तक ही विद्यालय में समय व्यतीत करना था।

वहीं जहां देश में बढ़ती गर्मी के चलते लोगों की हालत बद से बदतर होती चली जा रही है। वहीं देश के एक हिस्से में अर्थात पश्चिम भारत में बिपरजॉय चक्रवात तूफान का खतरा मंडरा रहा है। 

गर्मियां बढ़ सकती है

आने वाले कुछ समय में ही गर्मी भीषण बढ़ जाएगी। झारखंड सरकार के द्वारा स्कूल बंद करने के लिए आदेश भी जारी कर दिए गए हैं।

वर्तमान में झारखंड के ज्यादातर जिलों में तापमान 40 डिग्री के पास आने वाले दिनों में हो जाएगा। लेकिन इससे भी अधिक भीषण गर्मी होने की आशंका जताई जा रही है। 

वैसे तो अभी-अभी बिपरजॉय तूफान बंगाल के तटीय क्षेत्रों से टकराया है। इस तूफान के कारण से ही केरल कर्नाटक महाराष्ट्र गोवा गुजरात के साथ-साथ अरब सागर से लगने वाले अन्य राज्यों में काफी तेज आंधी तूफान आ रहे हैं। 

वहीं दूसरी ओर देखा जाए, तो केरल, कर्नाटक जैसे राज्यों में मॉनसून पहले से ही आ चुका है। स्कूलों में गर्मी की छुट्टी चल रही है। 

मौसम विज्ञान विभाग ने पूर्व अनुमान जताते हुए कहा है कि आने वाले समय में गर्मी और भी ज्यादा बढ़ सकती है। इसी को मद्देनजर रखते हुए स्कूलों में गर्मियों की छुट्टी को बढ़ाने की बातें कही जा रही है। 

जाने किस कक्षा को कितनी छुट्टी?

सरकार ने स्कूल बंद करने के लिए आदेश दे दिए हैं। हम आपको इस बात के विषय में भी जानकारी उपलब्ध करवा दे कि झारखंड सरकार ने एक बहुत बड़ा निर्णय लिया है। इस के मुताबिक 8वीं तक के सभी छात्र छात्राओं के लिए स्कूल बंद रहेंगे।

जारी किए गए आदेशों के अनुसार 9वीं से 12वीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को भी छुट्टीयां दी जा रही है। हम आपको बता दें कि यह घोषणा झारखंड सरकार के द्वारा की गई है। 

झारखंड सरकार के सचिव के रवि कुमार ने आदेश में लिखा है कि ,”झारखंड राज्य में अत्यधिक गर्मी पड़ने एवं लू को ध्यान में रखते हुए राज्य में संचालित सभी कोटि के सरकारी तथा गैर सरकारी, सहायता प्राप्त गैर सहायता प्राप्त (अल्पसंख्यक सहित) एवं सभी निजी विद्यालयों में छुट्टी होगी।

इस दौरान ही बच्चों की पढ़ाई में होने वाली क्षति की भरपाई के संदर्भ में अलग से निर्णय भी लिए जाएंगे। जिससे कि छात्रों की पढ़ाई पर हो रही इस छुट्टी का दुष्प्रभाव ना पड़ सके।

स्वयं मुख्यमंत्री ने की घोषणा

भीषण गर्मी की मार को मद्देनजर रखते हुए झारखंड राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने गर्मी की छुट्टियों को बढ़ाने का आदेश जारी कर दिया है।

मुख्यमंत्री की ओर से जारी किए गए आदेश के मुताबिक झारखंड राज्य में सभी आठवीं कक्षा के छात्र के लिए स्कूल 17 जून तक बंद रहेंगे। वैसे तो नौवीं से बारहवीं तक के स्कूल 15 जून से प्रारंभ हो चुके हैं।

जूनियर स्टूडेंट्स के लिए तो छुट्टी की समयावधि और भी अधिक बढ़ा दी गई है। किंतु सीनियर स्टूडेंट्स के स्वास्थ्य को भी मध्य नजर रखते हुए उन्हें भी अधिकारिक तौर से छुट्टियां उपलब्ध करवाई जा रही है।

जाने कितना है तापमान

आप की जानकारी हेतु हम आप को इस बात से अवगत करवा दे कि झारखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश के साथ ही साथ देश के कई सारे ऐसे राज्य भी है, जो इस भीषण गर्मी को झेल द्वारा रहे है।

झारखंड के ज्यादातर जिलों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से लेकर के 42 डिग्री सेल्सियस के मध्य में चल रहा है।

मेदिनीगर में हालात सर्वाधिक बदतर देखे जा रहे हैं। यहां पर तापमान सर्वाधिक है। जो कि 44.2 डिग्री सेल्सियस के रिकॉर्ड पर जा पहुंचा है। 

झारखंड में 19 जून के पश्चात मानसून संभवतः दस्तक दे सकता है। ऐसे में झारखंड सरकार ने गर्मियों की छुट्टी को बढ़ाने का आदेश भी दे दिया है। इससे पूर्व में भी भीषण गर्मी के परिणाम स्वरूप स्कूलों को बंद करने के आदेश दे दिए गए थे।

कड़ी धूप और भीषण गर्मी के परिणाम स्वरूप छात्रों के स्वास्थ्य में इसका दुष्प्रभाव देखने को मिल रहा है। जो कि किसी भी परिस्थिति में मान्य नहीं है। 

छात्रों में गर्मी का प्रभाव

यह बात तो प्रत्येक व्यक्ति को मालूम होती है कि हमारे शरीर को अनुकूल वातावरण के साथ-साथ अनुकूल तापमान भी चाहिए होता है।

बढ़ रही गर्मी के परिणाम स्वरुप छात्रों के स्वास्थ्य में खराब असर देखने को मिल रहा है, क्योंकि इन्हें गर्मी में न केवल स्कूल जाकर वहां पढ़ाई करनी होती है।

अपितु कड़ी धूप में वापस घर भी लौटना होता है। ऐसे में लू लगने की संभावनाएं काफी अधिक प्रबल हो जाती है।

इसके अतिरिक्त तबियत बिगड़ने, बेहोश होने इत्यादि जैसी स्वास्थ्य संबंधित दिक्कतों का भी सामना छात्र-छात्राओं को करना पड़ता है। 

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने आप सभी लोगों के समक्ष जून के महीने में होने वाली छुट्टियों के विषय में आवश्यक जानकारियां उपलब्ध कराई है। हमें आशा है कि हमारे द्वारा प्रदान की गई यह जानकारियां आपको पसंद आई होगी। 

x