केंद्रीय कर्मचारियों की उम्मीद पर फिरा पानी, DA को लेकर सरकार ने कर दिया ये ऐलान!

7th Pay Commission Update: यदि मैं केंद्रीय कर्मचारी होता, तो यह समाचार मेरे लिए विशेष महत्वपूर्ण हो सकता। बता दूं कि इस वर्ष केंद्रीय कर्मचारी डीए की प्रतीक्षा में हैं। साथ ही, पेंशनर्स भी डीआर का इंतजार कर रहे हैं।

रिपोर्ट के मुताबिक, इस बार डीए और डीआर में 3 फीसदी की वृद्धि होने की संभावना है। यदि ऐसा होता है, तो उन कर्मचारियों की आशावों पर पानी फिर जाएगा, जिन्होंने 4 फीसदी की वृद्धि की प्रतीक्षा की थी।

कर्मचारियों को क्यों है उम्मीद

हर महीने, सरकारी श्रम ब्यूरो द्वारा जारी किए जाने वाले औद्योगिक श्रमिकों के उपभोक्ता मूल्य सूचकांक के आधार पर डीए पर आधारित वृद्धि दर का निर्धारण किया जाता है। हाल ही में जून 2023 के लिए मूल्य सूचकांक की घोषणा की गई है।

इसके अनुसार, इस बार मूल्य सूचकांक दर 3 फीसदी से अधिक है, जिससे डीए में 4 फीसदी की वृद्धि होने की सूचना दी जा रही है। AIRF के महासचिव शिव गोपाल मिश्रा के अनुसार, सरकार डीए में वृद्धि की सोच नहीं रही है। इसका मतलब है कि सरकार डीए और डीआर में 3 फीसदी की वृद्धि कर सकती है।

कितना हो जाएगा डीए

केंद्र सरकार के पास 1 करोड़ से अधिक कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए डीए के फॉर्मूले के तहत तीन फीसदी बढ़ाकर उन्हें 45 फीसदी डीए देने की संभावना है। यह नया फॉर्मूला 1 जुलाई 2023 से प्रारंभ होने का आलेख है।

वर्तमान में, 1 करोड़ से अधिक कर्मचारियों और पेंशनर्स को 42 फीसदी डीए प्राप्त हो रहा है। आखिरी बार, 24 मार्च को DA में संशोधन किया गया था और यह 1 जनवरी 2023 से प्रभावी हुआ था।

डीए बढ़ने से कर्मचारियों को कितना होगा फायदा

डीए की बढ़ोतरी से कर्मचारियों को निम्नलिखित तरीकों से फायदा हो सकता है:

  1. वेतन में वृद्धि: डीए की बढ़ोतरी के कारण कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि हो सकती है। यह उनकी मासिक वेतन में बढ़ोतरी के रूप में दिख सकता है।
  2. पेंशन में वृद्धि: पेंशनर्स के लिए भी डीए में वृद्धि का फायदा हो सकता है। जब डीए बढ़ता है, तो पेंशन में भी वृद्धि होती है, जिससे वे अधिक धन प्राप्त कर सकते हैं।
  3. इन्फ्लेशन से सुरक्षा: डीए की बढ़ोतरी कर्मचारियों और पेंशनर्स को इन्फ्लेशन के प्रति सुरक्षित रखने में मदद कर सकती है। यह उनकी कामगिरी की मान्यता और वाणिज्यिक दुनिया में बदलते मूड से बचाव कर सकता है।
  4. अच्छे जीवन की दिशा में मदद: डीए की वृद्धि से कर्मचारियों का आर्थिक स्थिति मजबूत हो सकता है, जिससे उन्हें अधिक सुरक्षित और आरामदायक जीवन जीने में मदद मिल सकती है।

इन सभी तरीकों से, डीए की बढ़ोतरी कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए आर्थिक और सामाजिक दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण हो सकती है।

Disclaimer :- हम जानते हैं कि सोशल मीडिया पर बहुत सी ऐसी ख़बरें वायरल होती हैं, इसलिए हम सभी को सतर्क रहने की सलाह देते हैं। हम चाहते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से जाँच करें और ख़बर की सटीकता को सुनिश्चित करें, क्योंकि यहाँ दी गई जानकारी के लिए “wdeeh.com” कोई ज़िम्मेदारी नहीं स्वीकार करता है।

x