Basic Salary Hike: कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में 8000रु का इजाफा

Basic Salary Hike: कर्मचारियों के लिए एक महत्वपूर्ण सूचना सामने आई है। सरकार वर्तमान में कर्मचारियों की मौलिक वेतनमान में वृद्धि करने की संभावना पर विचार कर रही है। इस बार, महंगाई भत्ते के साथ ही फिटमेंट फैक्टर में भी वृद्धि की जा सकती है। यह नई योजना कर्मचारियों के लिए एक बड़ी खुशखबरी हो सकती है।

त्योहारों से पहले महंगाई भत्ते में 4 फीसदी की बढ़ोतरी की संभावना

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है क्योंकि सरकार त्योहारों से पहले महंगाई भत्ते (Dearness Allowance – DA) में 4 फीसदी की बढ़ोतरी की संभावना है। इस परिवर्तन से महंगाई भत्ता 42 फीसदी से बढ़कर 46 फीसदी तक वृद्धि कर सकता है।

सरकार महंगाई भत्ते के साथ ही एक और खुशखबरी दे सकती है। अनुसार, सरकार फिटमेंट फैक्टर में वृद्धि की संभावना पर विचार कर रही है। यदि ऐसा होता है, तो महंगाई भत्ते के साथ ही फिटमेंट फैक्टर की भी वृद्धि की जा सकती है।

वर्तमान में फिटमेंट फैक्टर की दर 2.57

वर्तमान में फिटमेंट फैक्टर की दर 2.57 है, जिसके आधार पर कर्मचारियों की सैलरी का निर्धारण किया जाता है। कर्मचारी एसोसिएशन ने लंबे समय से फिटमेंट फैक्टर में वृद्धि की मांग की है।

इसका मतलब हो सकता है कि Fitment Factor में संशोधन करने की संभावना है, जिससे कर्मचारियों की बेसिक सैलरी में वृद्धि हो सकती है। ऐसा 2016 में भी हुआ था, जब 7वां वेतन आयोग लागू हुआ था।

फिटमेंट फैक्टर की दरों में वृद्धि के परिणामस्वरूप कर्मचारियों की मूल सैलरी 18,000 रुपये से बढ़कर 26,000 रुपये तक बढ़ सकती है।

इससे उनके न्यूनतम वेतन में 8,000 रुपये तक की वृद्धि संभावित है। इस प्रकार के परिवर्तन से लगभग 52 लाख कर्मचारियों को लाभ प्राप्त हो सकता है।

फिटमेंट फैक्टर में संशोधन किया जाता है, तो

यदि फिटमेंट फैक्टर में संशोधन किया जाता है, तो केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में अतिरिक्त वृद्धि की संभावना है। इससे उनकी मूल सैलरी 18,000 रुपये से बढ़कर सीधे 21,000 या 26,000 रुपये तक पहुंच सकती है। इस परिवर्तन के परिणामस्वरूप लगभग 50 लाख कर्मचारियों को लाभ हो सकता है। यदि किसी कर्मचारी की मूल सैलरी 18,000 रुपये है, तो उनकी सामान्य सैलरी बिना भत्तों के 46,260 रुपये तक पहुंच सकती है।

अगर फिटमेंट फैक्टर को 3 गुना बढ़ा दिया जाय तो

भत्तों को शामिल करने से, उनकी सैलरी 95,680 रुपये तक पहुंचने की क्षमता होती है। इसका अर्थ है कि सैलरी में 49,420 रुपये की वृद्धि संभाव होती है। अगर फिटमेंट फैक्टर को 3 गुना बढ़ा दिया जाता है, तो बेसिक सैलरी 21,000 X 3 = 63,000 रुपये हो सकती है। यदि सरकार फिटमेंट फैक्टर को और भी बढ़ाती है, तो किसी कर्मचारी की 15,500 की बेसिक सैलरी भी 39,835 रुपये हो सकती है।

Disclaimer :- हम जानते हैं कि सोशल मीडिया पर बहुत सी ऐसी ख़बरें वायरल होती हैं, इसलिए हम सभी को सतर्क रहने की सलाह देते हैं। हम चाहते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से जाँच करें और ख़बर की सटीकता को सुनिश्चित करें, क्योंकि यहाँ दी गई जानकारी के लिए “wdeeh.com” कोई ज़िम्मेदारी नहीं स्वीकार करता है।

x