Headlines

Pan Card Rule: अब आसानी से बनवाएं अपनों का पैन कार्ड, जाने क्या है पूरा प्रोसेस

Pan Card Rule

Pan Card Rule: आजकल, पैन कार्ड एवं आधार कार्ड जैसे दस्तावेज़ सरकारी और गैर-सरकारी कार्यों में हमारी पहचान प्रमाणित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यह दोनों ही कार्ड विभिन्न विभागों द्वारा जारी किए जाते हैं। आप अपने बच्चों के लिए भी पैन कार्ड की आवश्यकता महसूस करते हैं तो आप उनके लिए भी आसानी से पैन कार्ड बनवा सकते हैं।आइए जानते हैं कि माइनर पैन कार्ड बनवाने के लिए कैसे अप्लाई करें?

Pan Card Rule

आजकल पैन कार्ड एक अत्यंत महत्वपूर्ण दस्तावेज है, जिसकी आवश्यकता अलग-अलग सरकारी और गैर-सरकारी कार्यों में होती है। इसके साथ ही इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए भी यह अनिवार्य हो गया है। क्या आप जानते हैं कि नाबालिग, अर्थात 18 साल से कम उम्र के व्यक्ति का भी पैन कार्ड बनाया जा सकता है? इससे स्पष्ट है कि अब टीनेजर्स को भी पैन कार्ड बनाने का मौका मिल गया है।

नाबालिग खुद पैन कार्ड के लिए आवेदन नहीं दे सकते

  • पैन कार्ड के लिए आवेदन नाबालिगों द्वारा नहीं किया जा सकता है, बल्कि माता-पिता को ही आवेदन करना पड़ता है।
  • भारत में आईटीआर फाइल करने की कोई निश्चित सीमा नहीं है, जैसे कि 15,000 रुपये प्रति माह कमाने पर भी आईटीआर फाइल करना अनिवार्य है।
  • पैन कार्ड का होना आवश्यक होता है रिटर्न फाइल करने के लिए, जिससे व्यक्ति आयकर विभाग की मांगों को पूरा कर सके।
  • आयकर विभाग ने रिटर्न फाइल करने के लिए किसी व्यक्ति की उम्र पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया है।

यह भी जानें :- DA Rates Chart Table: केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, यहाँ देखें नया DA चार्ट

Pan Card Rule -नाबालिग को पैन कार्ड की क्यों जरूरत होती है

  • जब बच्चे के नाम पर निवेश किया जाता है।
  • जब माता-पिता अपने नाम पर बच्चे को नॉमिनी बनाते हैं।
  • जब नाबालिग के नाम पर बैंक खाता खोला जाता है।
  • यह उन्हें बचत और निवेश की अच्छी आदतों को सिखाता है।
  • नाबालिग द्वारा हो रही कमाई पर पैन कार्ड की आवश्यकता होती है।
  • इससे उन्हें सरकारी योजनाओं का भी लाभ मिल सकता है।
हमारे ग्रुप से जुड़ेClick Here
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

Pan Card Rule -पैन कार्ड के लिए कैसे करें आवेदन

  • आपको NSDL की वेबसाइट पर जाने के लिए अधिकारिक लिंक खोजना होगा।
  • वहाँ आपको फॉर्म 49A खोजकर ध्यान से पढ़ना होगा।
  • बच्चे के आयु प्रमाण पत्र, माता-पिता के सिग्नेचर और फोटो अपलोड करने होंगे।
  • इसके बाद, 107 रुपये की फीस का भुगतान करना होगा।
  • भुगतान करने के बाद, आपको एक रिसीट नंबर मिलेगा।
  • रिसीट नंबर के माध्यम से पैन कार्ड की स्थिति जानी जा सकती है।
  • पैन कार्ड अप्लाई होने पर 15 दिनों में आपको ईमेल कन्फर्मेशन मिलेगा।
  • वेरिफिकेशन पूरा होने के बाद, आपको 15 दिनों में पैन कार्ड घर भेजा जाएगा।

Disclaimer :- हम जानते हैं कि सोशल मीडिया पर बहुत सी ऐसी खबरें वायरल होती हैं। इसलिए हम सभी को सतर्क रहने की सलाह देते हैं। हम चाहते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से जाँच करें। खबर की सटीकता को सुनिश्चित करें। क्योंकि यहां दी गई जानकारी के लिए “wdeeh.com” कोई ज़िम्मेदारी नहीं स्वीकार करता है।

x