केंद्र सरकार का मनरेगा मजदूरों को दीपावली का तोहफा, जल्द होगा बकाया मजदूरी का भुगतान

Central government’s Diwali gift to MNREGA: सितंबर में, केंद्र ने मजदूरों को पैसा भेजा, लेकिन अधिकांश को नहीं मिला. काम करने के बाद भी, मजदूरों को राशि नहीं मिली थी. अधिकतर लोगों की राशि लटकी हुई थी.

Central government’s Diwali gift to MNREGA: पैसे आने पर कुछ राशि तो मिली, लेकिन सभी को नहीं. सितंबर में आए पैसे से विभाजन में असमंजस था. मजदूरों की मेहनत के बाद भी, उन्हें अधिकारिक मिले नहीं. केंद्र से आए धन का सही वितरण नहीं हुआ. कई मजदूरों ने अपनी कड़ी मेहनत का मुआवजा नहीं पाया. वितरित पैसे ने मजदूरों को निराश किया. समस्या का समाधान करने की आवश्यकता है ताकि सभी को उचित मिले.

दीपावली पर केंद्र ने झारखंड को दिए 620 करोड़ रुपये

Jharkhand, Ranchi: दीपावली पर केंद्र ने झारखंड को 620 करोड़ रुपये दिए. यह राशि दूसरी और तीसरी किस्तों में बाँटी गई. दूसरी किस्त में 252.27 करोड़ रुपये हैं. तीसरी किस्त में 368.35 करोड़ रुपये शामिल हैं. मजदूरों को बकाया मजदूरी का भुगतान किया जाएगा. भारत सरकार ने मनरेगा के लिए अपना हिस्सा दिया. झारखंड ने पहले ही अपना हिस्सा दे दिया था. दी गई राशि से मजदूरों को बड़ी राहत मिली है. राज्य को वित्तीय समर्थन देने के लिए कदम उठाया गया है. इस पहल से मनरेगा के कामगारों को सहारा मिला है.

Caneup.in 2023-24: गन्ना पर्ची कैलेंडर अपने फोन पर ऐसे चेक करेंगे

Garena Free Fire Max Redeem Codes Today: 11 नवंबर के लिए, देखें गरेना फ्री फायर मैक्स रिडीम कोड्स लिस्ट

Central government’s Diwali gift to MNREGA

  • राज्य के मजदूरों को 4-5 महीने से मजदूरी नहीं मिल रही थी.
  • सितंबर में केंद्र से आए पैसे से कुछ राशि मिली, लेकिन अधिकांश मजदूरों को नहीं.
  • काम करने के बाद भी मजदूरों को पैसे नहीं मिले थे.
  • बहुत से मजदूर MGNREGA का काम छोड़ कर बाजार में काम करने जा रहे थे.
  • सितंबर में कुछ हिस्सा मिला, लेकिन बहुतों को राशि नहीं मिली थी.
  • केंद्र से आए पैसे से केवल कुछ मजदूरों की समस्या हल हुई.
  • मजदूरों को अपनी मेहनत के बावजूद पैसा नहीं मिला.
  • बड़ी संख्या में मजदूर MGNREGA का काम छोड़ बाजार में जा रहे थे.
  • सितंबर में आए पैसे से भी अधिकतर मजदूरों को कोई लाभ नहीं हुआ.
  • मजदूरों को वित्तीय समस्याएं बनी रहीं, जिससे उन्हें मजबूरी महसूस हो रही थी।

UP Board Exam Date 2024: 10वीं और 12वीं के छात्रों का इंतजार अब खत्म, अब इस तारीख से होंगे पेपर! जानिए अपडेट

आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को मिली राहत, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश, 4 महीने के मानदेय का होगा भुगतान

मजदूरी का भुगतान नहीं होने से मजदूरों में आक्रोश

  • मजदूरी का भुगतान नहीं होने से मजदूरों में आक्रोश है।
  • रोजगार सेवकों पर दबाव बढ़ रहा है।
  • लगातार रोजगार सेवक गांव नहीं जा रहे।
  • मजदूरों ने स्थिति को बहुत खराब बताया है।
  • स्थिति सुधारने के लिए राशि मिलने की आशा है।
  • आपसी समझ से समस्या का हल हो सकता है।
  • सरकार से मदद की उम्मीद है।
  • अच्छे दिनों की प्रतीक्षा कर रहे हैं मजदूर।
  • न्याय से समस्या का समाधान हो सकता है।
  • इस स्थिति में समर्थन की आवश्यकता है।
हमारे ग्रुप से जुड़ेClick Here
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

Disclaimer :- हम जानते हैं कि सोशल मीडिया पर बहुत सी ऐसी ख़बरें वायरल होती हैं, इसलिए हम सभी को सतर्क रहने की सलाह देते हैं ! हम चाहते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से जाँच करें और ख़बर की सटीकता को सुनिश्चित करें, क्योंकि यहाँ दी गई जानकारी के लिए “wdeeh.com” कोई ज़िम्मेदारी नहीं स्वीकार करता है !

x