शिक्षकों के लिए राहत भरी खबर, 17 महीने के बकाया वेतन-एरियर का होगा भुगतान, 30 दिन में खाते में आएगी राशि, इनकी सेवा होगी समाप्त

Teachers salary: शिक्षकों के लिए खुशखबरी: 17 महीने की बकाए एरियर राशि का भुगतान होगा। इस राहत की खबर ने शिक्षकों को आनंदित किया है। निर्देशों के अनुसार, उन्हें अब उनकी पिछली राशि मिलेगी। इस कदम से उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।

राज्य सरकार ने शिक्षकों के प्रति अपनी समर्पणता का स्वीकृति दिया है। शिक्षकों को बकाए राशि का वितरण तेजी से होगा। यह कदम शिक्षा क्षेत्र के लिए सकारात्मक परिणाम लाएगा। सरकार ने शिक्षकों की मेहनत को मान्यता देने का संकेत किया है। इस समाचार से शिक्षकों को आत्मविश्वास मिलेगा। राज्य सरकार ने शिक्षकों के साथ उनकी समर्थना दिखाई है।

Teachers salary -बकाए वेतन का तुरंत भुगतान

शिक्षकों को उनके बकाए वेतन का तुरंत भुगतान किया जाएगा। इसके लिए निर्देश जारी किए गए हैं। नियमों के अनुसार नियुक्त नहीं होने वाले शिक्षकों की सेवा समाप्त की जाएगी। भुगतान के लिए निर्देश प्राप्त हो चुके हैं। शिक्षकों के बकाए वेतन की समस्या को सुलझाने का कदम उठाया जा रहा है। सेवा समाप्ति का निर्णय लेने का कारण स्पष्ट रूप से बताया गया है। नियुक्ति से वंचित शिक्षकों के प्रति संवेदना व्यक्त की गई है। नियुक्ति के अभाव में सहायक कदमों की जरूरत होगी। नौकरी समाप्ति से पहले संबंधित विधियों का पालन किया जाएगा। इस निर्णय से न्यूनतम समय में विवादों का समाधान होगा।

World Cup 2023: पाकिस्तान बाहर, इन चार टीमों के बीच होगी सेमीफाइनल की जंग, जानें कब और कहां खेलें जाएंगे नॉकआउट मैच

IND vs NED: सेमीफाइनल से पहले टीम इंडिया में होगा बड़ा बदलाव! बाहर बिठाए जा सकते हैं ये 3 धुरंधर

माध्यमिक शिक्षा के शिक्षकों को 17 महीने के बकाये वेतन का भुगतान

  • दिवाली से पहले उत्तर प्रदेश सरकार ने माध्यमिक शिक्षा के शिक्षकों को 17 महीने के बकाये वेतन का भुगतान किया।
  • इनको वेतन में प्रतिबंध के साथ जारी करने का आदेश दिया गया है।
  • सेवा नहीं मिलने पर नियुक्त नहीं होने वाले शिक्षकों की सेवा समाप्त की जाएगी।
  • यह राहत दिवाली के दो दिन पहले दी गई है।
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने नियमों के अनुसार नहीं नियुक्त शिक्षकों की सेवा समाप्त करने का फैसला किया है।
  • शिक्षकों को बड़ी राहत मिलने से वे अपने बकाये वेतन का लाभ उठा सकेंगे।
  • इस समय में शिक्षकों को मिली यह राहत काफी महत्वपूर्ण है।
  • सरकार ने शिक्षकों की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया है।
  • दिवाली के मौके पर शिक्षकों को मिला यह आनंदकर फैसला।
  • सरकार ने शिक्षकों को उनके कठिनाइयों से निकलने के लिए सहारा पहुंचाया है।

UP Board Exam Date 2024: 10वीं और 12वीं के छात्रों का इंतजार अब खत्म, अब इस तारीख से होंगे पेपर! जानिए अपडेट

आउटसोर्सिंग कर्मचारियों को मिली राहत, राज्य सरकार ने जारी किया आदेश, 4 महीने के मानदेय का होगा भुगतान

Teachers salary -कर्मचारियों ने निदेशालय का याचना कार्यक्रम चलाया

  • 1100 शिक्षकों को 17 महीने पहले वेतन रोका गया था माध्यमिक एडेड कॉलेज में।
  • शिक्षकों ने जिला और मंडल स्तर पर समाधान के लिए अधिकारियों से चर्चा की।
  • कोई समाधान नहीं निकलने पर कर्मचारियों ने निदेशालय का याचना कार्यक्रम चलाया।
  • शासन और निदेशालय के चक्कर काटने के बाद भी कोई समाधान नहीं हुआ।
  • इस मामले में समाधान के लिए कर्मचारियों ने निदेशालय से सहायता मांगी।

Caneup.in 2023-24: गन्ना पर्ची कैलेंडर अपने फोन पर ऐसे चेक करेंगे

Garena Free Fire Max Redeem Codes Today: 11 नवंबर के लिए, देखें गरेना फ्री फायर मैक्स रिडीम कोड्स लिस्ट

माध्यमिक शिक्षा के अपर मुख्य सचिव ने किए निर्देश जारी

  • आदेश के आधार पर, माध्यमिक शिक्षा के अपर मुख्य सचिव ने निर्देश जारी किए हैं।
  • शिक्षा निदेशक माध्यमिक को 17 महीने के वेतन का भुगतान करने का आदेश दिया गया है।
  • अपर मुख्य सचिव ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का हवाला दिया है।
  • तदर्थ शिक्षकों के बकाया वेतन का स्वीकृत भुगतान किया जाएगा।
  • वेतन प्रभावित और रुका हुआ था, जैसा कि सुप्रीम कोर्ट ने आदेश जारी किये थे।
  • उनकी सेवाएं प्रमाणित और सत्यापित होने आवश्यक हैं।
  • अद्यतित होने के बाद भी वेतन का भुगतान होगा।
  • आदेश के मुताबिक, शिक्षा निदेशक ने तदर्थ शिक्षकों का हक मान्यता दी है।
  • अपर मुख्य सचिव ने यह सुनिश्चित करने के लिए निर्देश दिए हैं कि सभी विधायिका का पालन हो।
  • शिक्षा क्षेत्र में सुधार के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे।
हमारे ग्रुप से जुड़ेClick Here
आधिकारिक वेबसाइटClick Here

Teachers salary -बकाया वेतन का भुगतान 30 दिन के अंदर

मृत शिक्षकों के उत्तराधिकारी को शिक्षण कार्य के लिए बकाया वेतन का भुगतान 30 दिन के अंदर करना होगा। नियमों के अनुसार, नियुक्ति नहीं होने वाले शिक्षकों की सेवा समाप्त की जाएगी। इस परिधि में 500 शिक्षक प्रभावित होंगे और उन्हें न्यूनतम समय में संबोधित किया जाएगा। नियमों के अनुसार, मृत्यु होने पर भी शिक्षकों के बाकी वेतन का निर्धारित समय में भुगतान होगा। उत्तराधिकारियों को संबोधित करके उन्हें सही प्रक्रिया का पालन करने के लिए निर्देश दिए गए हैं।

Disclaimer :- हम जानते हैं कि सोशल मीडिया पर बहुत सी ऐसी ख़बरें वायरल होती हैं, इसलिए हम सभी को सतर्क रहने की सलाह देते हैं ! हम चाहते हैं कि आप आधिकारिक स्रोतों से जाँच करें और ख़बर की सटीकता को सुनिश्चित करें, क्योंकि यहाँ दी गई जानकारी के लिए “wdeeh.com” कोई ज़िम्मेदारी नहीं स्वीकार करता है !

x