Headlines

7th Pay Commission : अब केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी के साथ एक और तोहफा, सैलरी में इतना होगा इजाफा

7th Pay Commission

7th Pay Commission : डीए हाई के बाद, अब कर्मचारियों की ओर से एक और खुशखबरी का इंतजार है। यहाँ तक कि कर्मचारियों के हाउस रेंट अलाउंस (House Rent allowance) में भी वृद्धि की संभावना है। महंगाई भत्ता 50 फीसदी तक कन्फर्म हो चुका है।

केंद्रीय सरकार के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है कि उनकी सैलरी में इजाफा हो रहा है। हाल ही में, केंद्रीय कर्मचारियों के लिए नया महंगाई भत्ता कन्फर्म किया गया है। इसकी घोषणा अभी बाकी है, लेकिन मार्च तक फैसला होने की उम्मीद है। यह खुशखबरी केवल महंगाई भत्ते तक ही सीमित नहीं है।

DA हाइक के बाद, अब एक और सुनहरी खबर का इंतजार है। दरअसल, कर्मचारियों के हाउस रेंट अलाउंस (HRA) में भी इजाफा होने वाला है। महंगाई भत्ते में 50 फीसदी की वृद्धि की गई है और अब HRA में भी संभावित रिवाइजन है। इसमें 3 फीसदी का इजाफा होने की संभावना है।

आज बजट में कर्मचारियों-पेंशनर्स को बड़ा तोहफा, डीए वृद्धि का मिलेगा लाभ, अप्रैल 2024 में जारी होगी किस्त

PM Mudra Loan Yojana Online Apply: यहाँ सभी लोगो को मिल रहा 10 लाख रूपए का लोन, फॉर्म भरना शुरू

DA Hike के बाद होगा HRA में इजाफा-

7th Pay Commission : 4 फीसदी महंगाई भत्ते की मंजूरी मिलने के बाद, मार्च में केंद्रीय कैबिनेट ने इसे स्वीकृति देने का फैसला किया है। इस नए स्थिति में, केंद्रीय कर्मचारियों को महंगाई भत्ता 50 फीसदी बढ़ा दिया जाएगा और यह 1 जनवरी 2024 से प्रभावी होगा।

इससे पहले, जुलाई 2021 में महंगाई भत्ते की 25 फीसदी बढ़ोत्तरी के परिणामस्वरूप, HRA में 3 फीसदी का संशोधन किया गया था।

हाल ही में, HRA की अपर सीमा को 24 प्रतिशत से बढ़ाकर 27 प्रतिशत पर बदल दिया गया था। अब, जब महंगाई भत्ते 50 प्रतिशत हो जाएगा, तो HRA में फिर से संशोधन होगा, जिसमें एक बार फिर 3 प्रतिशत का वृद्धि होगा। मेट्रो शहरों, जैसे कि X कैटेगरी के शहरों में, के लिए HRA को 30 प्रतिशत तक बढ़ा दिया जाएगा। इन शहरों में नौकरी करने वाले कर्मचारियों को 30 प्रतिशत की दर पर हाउस रेंट भत्ता दिया जाएगा।

UP Board Inter Ka Roll Number 2024 Kaise Check Kare: यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट रोल नंबर, मात्र कुछ सेकंड में देखें

आठवें वेतन पर आया सरकार का बड़ा अपडेट, जानिये किस दिन होगा गठन?

सरकार ने बताया कब बढ़ेगा HRA-

7th Pay Commission : संगठन और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) के अनुसार, केंद्रीय कर्मचारियों के लिए हाउस रेंट अलाउंस (एचआरए) को महंगाई भत्ते के आधार पर संशोधित किया जाता है। एचआरए की विभाजन X, Y और Z कक्षा शहरों के लिए किया जाता है। शहरों की वर्गीकरण के अनुसार, वर्तमान दरें 27 प्रतिशत, 18 प्रतिशत और 9 प्रतिशत हैं, जो 1 जुलाई 2021 से लागू हैं। हालांकि, सरकार ने 2016 में एक मेमोरेंडम जारी किया था जिसमें डीए के साथ एचआरए को समय-समय पर संशोधित करने का निर्देश था। 2021 में महंगाई भत्ते की वृद्धि 25 प्रतिशत पर हाउस रेंट अलाउंस (एचआरए) को संशोधित किया गया था। अब, जब महंगाई भत्ता 50 प्रतिशत हो गया है, तो एचआरए में अगला संशोधन होना है।

DA Hike Calculator : अब केंद्रीय कर्मचारियों की होगी मौज, मिलेगा 22788 रुपये का एरियर, जानिए कैलकुलेशन

8th Pay Commission : आ गया केंद्रीय कर्मचारियों के आठवें वेतन आयोग पर सरकार का नया अपडेट

HRA गणना का क्या है फार्मूला?

  • HRA का गणना केंद्रीय कर्मचारियों के लिए शहर की कैटेगरी के हिसाब से किया जाता है।
  • शहरों/कस्बों को X, Y और Z श्रेणी में बांटा गया है।
  • सरकार X श्रेणी में 27%, Y श्रेणी में 18%, और Z श्रेणी में 9% हाउस रेंट अलाउंस देती है।
  • हाउस रेंट अलाउंस कर्मचारी की बेसिक सैलरी के हिसाब से निर्धारित होता है।
  • यह अनुदान कर्मचारियों को नए शहर में आसानी से बसने की सुविधा प्रदान करता है।
  • शहर की अधिकतर सुविधाओं के विकास को ध्यान में रखते हुए, हाउस रेंट अलाउंस को निर्धारित किया गया है।
  • यह अलाउंस नागरिकों को शहरी क्षेत्रों में रहने के लिए प्रेरित करता है।
  • सरकारी कर्मचारियों को आधुनिक और सुरक्षित निवास स्थानों में बसने का अधिकार प्रदान किया जाता है।
  • यह नीति कर्मचारियों के उत्थान और समृद्धि को बढ़ावा देती है।
  • हाउस रेंट अलाउंस का मकसद स्थानीय मानकों के अनुसार उचित आवास प्रदान करना है।

Anganwadi Supervisor Recruitment: अब आंगनवाड़ी में निकली नई भर्ती, आवेदन फॉर्म भरना शुरू

किस शहर के लिए कितना होगा HRA- 7th Pay Commission

1. X क्षेत्र में – दिल्ली, अहमदाबाद, बेंगलुरु, मुंबई, पुणे, चेन्नई, और कोलकाता को विभिन्न क्षेत्रों में रखा गया है। यहाँ काम करने वाले कर्मचारियों को 27 प्रतिशत HRA के साथ बेसिक पे दी जाती है

2. यदि हम श्रेणी Y की बात करें, तो पटना, लखनऊ, विशाखापत्तनम, गुंतूर, विजयवाड़ा, गुवाहाटी, चंडीगढ़, रायपुर, राजकोट, जामनगर, वडोदरा, सूरत, फरीदाबाद, गाजियाबाद, गुड़गांव, नोएडा, रांची, जम्मू, श्रीनगर, ग्वालियर, इंदौर, भोपाल, जबलपुर, उज्जैन, कोल्हापुर, औरंगाबाद, नागपुर, सांगली, सोलापुर, नासिक, नांदेड़, भिवडी, अमरावती, कटक, भुवनेश्वर, राउरकेला, अमृतसर, जालंधर, लुधियाना, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर, कोटा, अजमेर, मुरादाबाद, मेरठ, बरेली, अलीगढ़, आगरा, लखनऊ, कानपुर, इलाहाबाद, गोरखपुर, फिरोजाबाद, झांसी, वाराणसी, और सहारनपुर जैसे शहर आते हैं। यहां रहने वाले कर्मचारियों को 18 फीसदी HRA के रूप में बेसिक पे दी जाती है।

Z श्रेणी में, एक्स और वाई कैटेगरी के शहरों को छोड़कर बाकी सभी शहरों को जेड श्रेणी में रखा गया है। इन शहरों में काम करने वाले कर्मचारियों को 9 फीसदी HRA मिलता है, जो कि उनकी बेसिक पे का हिस्सा है।

कैसे बढ़ेगा कर्मचारियों का HRA?

  • मार्च 2024 में हाउस रेंट अलाउंस का अगला रिविजन होगा।
  • महंगाई भत्ता बढ़ने से HRA की अधिकतम दर 30% हो जाएगी।
  • X कैटेगरी के कर्मचारियों के लिए यह लागू होगा।
  • Y कैटेगरी में 2% का रिविजन होगा।
  • उसकी मौजूदा दर 20% हो जाएगी।
  • Z कैटेगरी वालों को 1% बढ़ाकर 10% HRA मिलेगा।
  • इस संशोधन से कर्मचारियों को लाभ होगा।
  • यह सरकारी कर्मचारियों के वेतन में बदलाव लाएगा।
  • महंगाई के आधार पर यह निर्णय लिया गया है।
  • राज्य सरकार द्वारा इसके प्रावधानों को लागू किया जाएगा।

DA शून्य हुआ तो घट गया था HRA-

  • 7वां वेतन आयोग के समय, HRA को 30, 20, 10% से घटाकर 24, 18, 9% किया गया था।
  • तीन श्रेणियों में इसे विभाजित किया गया: X, Y, और Z।
  • DA को शून्य कर दिया गया था।
  • जब DA 25% पर पहुंचेगा, HRA ऑटोमैटिक रूप से रिवाइज होगा।
  • रिवाइजन के साथ, 3, 2, 1% का इजाफा होगा।
  • महंगाई भत्ते के 50% पर पहुंचने पर फिर से HRA में इसी तरह इजाफा होगा।
  • DoPT ने इस बारे में नोटिफिकेशन जारी किया था।
  • नोटिफिकेशन में स्पष्ट कहा गया था कि HRA कैसे बदलेगा।
  • इससे कर्मचारियों को वेतन के साथ अधिक लाभ होगा।
  • यह निर्देश 7वां वेतन आयोग के तहत लागू होता है।

x