UP 10th, 12th Board Result 2023 Date: ये है यूपी बोर्ड रिजल्‍ट रिलीज की टेंटेटिव डेट, देखें अपेडेट्स

UP 10th, 12th Board Result 2023 Date: ये है यूपी बोर्ड रिजल्‍ट रिलीज की टेंटेटिव डेट, देखें अपेडेट्स

यूपी बोर्ड के छात्र-छात्राओं की प्रतीक्षा की अवधि दिन प्रतिदिन बढ़ती चली जा रही है। ऐसे में किसी भी छात्र के लिए राहत की कोई खबर आ ही नहीं रही है। जिसके कारण से काफी सारे छात्र हताश हो चुके हैं।

आज के इस पोस्ट में हम सभी लोग इसी से संबंधित सारी आवश्यक जानकारियों पर विस्तार पूर्वक चर्चा करने वाले हैं।

इसके साथ ही साथ हम यूपी बोर्ड से संबंधित सारी आवश्यक बातों को भी आप सभी लोगों के समक्ष प्रस्तुत करेंगे।

कब जारी होगा रिजल्ट?

सभी छात्र छात्राओं को परीक्षा परिणामों के जारी किए जाने की प्रतीक्षा बड़े लंबे समय से है। ऐसे में परीक्षा परिणामों को कब जारी किया जाएगा? इससे संबंधित कोई भी खबर समक्ष प्रस्तुत नहीं की जा रही है।

वैसे यदि मीडिया रिपोर्टों की मानें तो उनके मुताबिक अप्रैल महीने में ही परीक्षा परिणामों को जारी किया जाना था।

जैसा कि हम सभी जानते ही हैं कि अप्रैल महीना समय के साथ गुजरता चला जा रहा है।

परीक्षा परिणामों को कब जारी किया जाएगा? यह प्रश्न और भी अधिक कठिन होता चला जा रहा है। वैसे हम आपके इस प्रश्न का उत्तर प्रदान कर दें कि इसी सप्ताह परीक्षा परिणामों को जारी कर दिया जाएगा।

किंतु एक बात का विशेष स्मरण रहे कि परीक्षा परिणामों को जारी किए जाने की यह बात बोर्ड के द्वारा अधिकारिक रूप से घोषित नहीं की गई है।

कैसे देखे रिजल्ट?

यदि आप यूपी बोर्ड में सम्मिलित हुए थे और आप भी अपना परीक्षा परिणाम चेक करना चाहते हैं, तो फिर आवश्यक है कि आपको इस विधि का पता हो कि आखिर किस प्रकार से परीक्षा परिणाम को ऑनलाइन माध्यम से देखा जा सकता है?

सर्वप्रथम तो आपको उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद की अधिकारीक वेबसाइट में जाने की आवश्यकता है। जिसके लिए आप upmsp.edu.in का प्रयोग कर सकते हैं।

जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे, आपके समक्ष यूपी बोर्ड 10वीं परीक्षा परिणाम 2023 अथवा यूपी बोर्ड 12वीं परीक्षा परिणाम 2023 का विकल्प प्रस्तुत कर दिया जाएगा।

आपको इन दोनों में से किसी एक का चयन कर लेना है और प्रक्रिया को आगे बढ़ा देना है। तत्पश्चात आपके समक्ष एक अन्य नया पेज खुल कर के आ जाएगा।

इसमें आपको अपना रोल नंबर तथा रोल कोड डालकर के सबमिट के विकल्प का चयन कर लेना है।

ऐसा करते ही आपके समक्ष परीक्षा परिणामों को जारी कर दिया जाएगा।

कितने छात्रों ने दी इस बार की परीक्षा

अगर आपने भी इस वर्ष की परीक्षा में टॉप करने का संकल्प लिया है, तो फिर आपको यह बात अवश्य ही पता होना चाहिए कि यह कार्य बिल्कुल भी सरल नहीं होने वाला है।

क्योंकि इस वर्ष बोर्ड परीक्षा में लगभग लगभग 5800000 छात्र-छात्राओं ने स्वयं का पंजीकरण करवाया था। ऐसे में आप अनुमान लगा सकते हैं कि कंपटीशन आखिर कितना अधिक तगड़ा होने वाला है?

इस बार की परीक्षा भी काफी ज्यादा शख्स तरीके से आयोजित करवाई गई थी। जिसमें किसी भी छात्र को नकल करने का एक मौका भी नहीं मिला था।

इन छात्र-छात्राओं की सुविधा हेतु प्रदेश में कुल 8752 परीक्षा केंद्रों की नियुक्ति की गई थी। इसी प्रकार से उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन हेतु प्रदेश में कुल 200 से भी अधिक केंद्रों की नियुक्ति की गई थी।

कब जारी होते हैं परीक्षा परिणाम?

बहुत सारे लोगों का यह प्रश्न भी होता है कि आखिरी परीक्षा परिणाम को कब जारी किया जाएगा? तो हमने यह भी देखा कि परीक्षा परिणामों के जारी किए जाने की अनुमानित तिथि मीडिया के द्वारा घोषित की गई है।

किंतु इस अनुमानित तिथि का निर्धारण ऐसे ही नहीं कर दिया गया है। आपको बता दें कि यूपी बोर्ड के द्वारा जब भी परीक्षा ली जाती है, तो फिर 40 दिनों के भीतर ही परीक्षा परिणामों को जारी कर दिया जाता है।

इसी के आधार पर हम यह अनुमान लगा सकते हैं कि इस वर्ष की बोर्ड परीक्षा परिणामों को अप्रैल महीने के भीतर ही जारी कर दिया जाएगा।

परिक्षा परिणामों को जैसे ही जारी कर दिया जाएगा, परीक्षार्थी अपने परीक्षा परिणामों को ऑनलाइन माध्यम से चेक कर सकते हैं।

पासिंग मार्क्स की विषय में भी जाने

यदि आप इस वर्ष की बोर्ड परीक्षा में पास होना चाहते हैं, तो फिर आपको इस विषय में भी जानकारी होनी चाहिए कि आखिर बोर्ड के द्वारा पासिंग मार्क्स किस प्रकार से निर्धारित किया गया है?

तो हम आपको बता दे कि बोर्ड ने छात्र-छात्राओं के लिए पासिंग मार्क्स का निर्धारण किया है। परीक्षार्थी को किसी भी परीक्षा में पास होने हेतु 33% अंक लाने होंगे। अर्थात परीक्षा यदि 70 अंकों की है, तो उसमें पास होने के लिए परीक्षार्थी को 23 अंक लाने होंगे।

लेकिन एक बात का खास ख्याल रहे कि इस अंक में प्रैक्टिकल के नंबर नहीं जोड़े गए हैं। अर्थात परीक्षार्थी को यह अंक स्वयं अर्जित करने होंगे। 

इस विषय में भी जानें

सभी छात्र छात्राओं के मन में यही प्रश्न घूम रहा है कि कब परिणामों को जारी किया जाएगा? लेकिन इसके अतिरिक्त एक अन्य बात भी है,

जो सभी परीक्षार्थियों को परेशान कर रही है। वह यह है कि कहीं उनके उत्तर पुस्तिकाएं लापरवाही पूर्वक जांची न गई हो! 

यदि आपका भी यही मानना है, तो फिर निम्न बताएगा तथ्यों को जानने के पश्चात आपको ऐसा महसूस करने की आवश्यकता नहीं होगी।

उत्तर प्रदेश में 200 से भी अधिक परीक्षा केंद्रों की नियुक्ति की गई जहां पर उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य जारी रहा।

परीक्षा परिणाम में किसी प्रकार से कोई लापरवाही ना हो, इस वजह से उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य सीसीटीवी कैमरा लगे कक्षा में करवाया गया थे। जिसकी निगरानी संबंधित अधिकारी कर सकते थे।

जिन भी केंद्रों में उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य चल रहा था। उन केंद्रों के 100 मीटर के दायरे में धारा 144 लागू की गई थी।

उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन होने के पश्चात उत्तर पुस्तिकाओं को एक स्थान पर एकत्रित किया जाता है। तत्पश्चात संबंधित अधिकारी उनकी रैंडम चेकिंग किया करते हैं।

जिससे कि यह बात पूर्णता सुनिश्चित हो जाए कि उत्तर पुस्तिकाएं सही ढंग से जांची गई हैं।

इसके अतिरिक्त शिक्षकों को इस बात की भी सख्त हिदायत दी गई है कि यदि वह उत्तर पुस्तिकाओं की जांच में लापरवाही बरतते हैं, तो फिर उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही भी की जाएगी।

निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में हमने आप सभी लोगों के समक्ष यूपी बोर्ड परीक्षा से संबंधित सारी आवश्यक जानकारियां उल्लेखित कर दी है।

हमें आशा है कि हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई यह सारी जानकारियां आपके लिए लाभकारी सिद्ध होगी।

x